Apple की अगली पीढ़ी की घडी (Apple Watch), जिसे Series 3 कहा जाता है, उसमे अपनी अपनी खुदकी Cellular तकनीक शामिल होगी.

Apple Watch Series 3
Apple Watch Series 3

इसके मालिकों से एक बड़ी शिकायत  यह है, की Apple Watch और iPhone स्वतंत्र रूप से काम करे. Apple की अगली पीढ़ी की घडी, जिसे Series 3 कहा जाता है, उसमे अपनी अपनी खुदकी Cellular तकनीक शामिल होगी.

दूसरी पीढ़ी के घड़ी के आकार को देखते हुए, Apple ने डिस्प्ले को एक बहुआयामी वायरलेस ऐन्टेना के साथ दोहरे रूप में डिज़ाइन किया है, जिसके वजह से उपयोगकर्ता कॉल करने, दिशा धुंडने, SIRI का उपयोग जैसे कामो के साथ संगीत का भी आनंद Apple Watch के जरिये ले पाएंगे, COO Jeff Williams ने कहा.

Apple के Watch की जानकारी

यह Watch बनाने वाली संस्था तो Apple Inc है, पर इसका उत्पादन Quanta Computer करता है. Apple Watch कि शुरुवात २४ अप्रैल २०१५ में हुई है. जिसकी प्रणाली watchOS 1 थी. इस संस्था के किसी भी Watch को खरीदने के लिए आप  www.apple.com/watch पर जा सकते है.

Apple Watch का सेलुलर संस्करण २९,९०० रुपये में आता है, और शुरवाती तौर पर यह ९ देशो में उपलब्द है.

यह घडी dual-core processor के साथ आती है, जो पहले की घडी के मुकाबले ५० प्रतीषद ज्यादा शक्तिशाली है. यह Watch पुनर्रचित iOS Watch 4 operating system के साथ उपलब्ध होगी. जिसमे Apple wireless chip मौजूद है. Series 3 का Apple Watch ५० मीटर गहरे पानी के अंदर भी सुरक्षित रहता है. इसमें दिल की धड़कने गिनने की क्षमता है. Ambient light sensor की बदौलत यह अँधेरे में यह ज्यादा उजाले में यह अपने आप ही रोशनी को कम या ज्यादा कर लेता है. साथ ही इसमें ८GB की डाटा रखने की भी क्षमता है. यह घडी OLED Retina display के साथ आती है. इसकी battery लगभग १८ घंटे चलती है. जिसे Magnetic charging cable या USB power adapter से चार्ज किया जा सकता है.

Apple १५ सितंबर से Series 3 बिक्री शुरू कर रहा है, और सितंबर २२ को यह ग्राहकों के लिए उपलब्ध होगा.

Comments

comments